Activities, Archived Activies

शिविर सूचना- *“पठन के बाद क्या!!.. अभ्यास और अध्ययन कैसे!!”* 

प्रस्तुति : योगेश शास्त्री भैया; dt:12 से 19 मार्च 2022 @अभ्युदय संस्थान, अछोटी

मान्यवर 🙏

शिविर सूचना- *“पठन के बाद क्या!!.. अभ्यास और अध्ययन कैसे!!”* 

प्रस्तुति : योगेश शास्त्री भैया; dt:12 से 19 मार्च 2022 @अभ्युदय संस्थान, अछोटी

.

शिविर विषय: *“पठन के बाद क्या!!.. अभ्यास और अध्ययन कैसे!!”*

प्रस्तुति : योगेश शास्त्री भैया

दिनांक: 12 से 19 मार्च को 2022 (होलिका दहन 17; होली-18 मार्च को है).

स्थान: अभ्युदय संस्थान, अछोटी

.

.

सभी को नमस्ते

जैसा कि अभी *अभ्युदय संस्थान अछोटी* में छ: मासिक अध्ययन शिविर 11 मार्च 2022 को सभी किताबों के पठन के साथ समाप्त हो रहा है. (छ: मासिक अध्ययन शिविर – 15 मार्च 2021 से 11 मार्च 2022 तक)

.

जिन अध्ययनार्थियों ने इन किताबों को विगत 6 माह में विधिवत पठन किया है, उनको ध्यान में रखकर दिनांक 12 से 19 मार्च को एक विशेष

 “छ: मासिक अध्ययन समापन शिविर” का आयोजन किया जा रहा है.

.

*  *तो आप भी आमंत्रित हैं.*

.

क्योंकि यह अभी जारी छ: मासिक अध्ययन शिविर के समापन के स्वरूप में है,

अतः योगेश भैया द्वारा “छ: मासिक अध्ययन शिविर” के समापन के अर्थ में 8 दिन का –

“पठन के बाद क्या!!” या कहें कि “पठन के बाद अभ्यास और अध्ययन कैसे!!” पर शिविर लिया जाना प्रस्तावित है. (होलिका दहन 17; होली-18 मार्च को है).

.

योगेश भैया द्वारा दिनांक 12 से दिनांक 19 मार्च तक यह शिविर लिया जाना तय हुआ है.

जो कि फिजिकल यानी प्रत्यक्ष होगा.

.

उसे ध्यान में रखते हुए आप सभी संस्थान आने का निर्णय लें. *(यदि आपने विगत में सभी वान्ग्मयों का विधिवत पठन कर लिया है)*

.

योगेश भैया का यह 8 दिवसीय *शिविर ऑनलाइन नहीं होगा.* यह शिविर फिजिकल अर्थात प्रत्यक्ष ही होगा.

शिविर के संभावित बिंदु:

शिविर विषय:

* *“पठन के बाद क्या!!.. अभ्यास और अध्ययन कैसे!!”* का तात्विक, तार्किक के साथ *विशेषकर व्यवहारिक स्वरूप.* *

– सभी वांग्मय पर पुनः एक बार स्मरण चर्चा

– चारों दर्शन,तीन वाद,तीन शास्त्र समेत सहायक सामग्री को कैसे संदर्भ में ले सकेंगे इस पर चर्चा।

अर्थात…

– इन सभी उपलब्ध किताबों के पठन की प्रक्रिया पर आने वाले समय के लिए “पठन प्रक्रिया कैसी हो” पर बात.

– अभ्यास प्रक्रिया कैसी हो पर बात.

– अध्ययन के अर्थ में सारे प्रयास कैसे हो पर बात.

– अखंड समाज सार्वभौम व्यवस्था के अर्थ में प्रेरित हो कर  स्वयं जागृति के लिए कार्यक्रमों की पहचान कर स्वयं की भागीदारी या उपयोगिता के अवसर व उस के प्रति स्वयं का समर्पण की संभावना।

– व्यवस्था के सभी आयामों की पहचान कर स्वयं के परिवार में, समाज में, मेरी भागीदारी या उपयोगिता की संभावना.

– अपने लिए एक निश्चित दिनचर्या, परिवार में स्वयं की जागृति के लिए निश्चित कर्तव्य के अर्थ में संभावित अभ्यास.

– अखंड समाज सार्वभौम व्यवस्था के अर्थ में लगे हुए अन्य भाई बहनों के साथ किए जाने वाले सामूहिक प्रयासों की ओर  ध्यान जाना और उसमें किए जा सकने वाले संभावित सहयोग.

– जागृतितक पठन प्रक्रिया की निरंतरता हो सके इसलिए व्यक्तिगत और सामूहिक पठन,श्रवण,मनन और अभ्यास के अर्थ में की जा सकने वाली सभी संभावनाएं.

.

….. और ऐसे कई बातों पर शिविर /चर्चा के दौरान बातचीत हो पाने की संभावना दिख रही है.

.

.

अधिक जानकारी के लिए मंजीत भैया (9981186657) या चंद्रशेखर भैया(9893025307) से संपर्क कर सकते हैं.

.

साथ ही..

12 -19 मार्च हो रहे इस शिविर के इच्छुक लोगों हेतु एक whatsapp ग्रुप बनाया गया है..

*शिविर रजिस्ट्रेशन के लिए नीचे गूगल फॉर्म भरें …*

https://forms.gle/WjnoY8TnhUnEMACv5

गूगल फॉर्म को भरने के पश्चात आपको whatsapp ग्रुप में ऐड कर लिया जाएगा.

.

धन्यवाद